पंचम रंग की दो नाटकों का मंचन

पंचम रंग की दो नाटकों का मंचन

मुम्बई के आदर्श नगर स्थित शाकुंतलम थियेटर में नाट्य संस्था पंचम रंग की दो नाटकों का मंचन किया गया । पहला नाटक था नेता जी । राजनीतिक व्यंग्य और हास्य का मिश्रण लिये यह नाटक एक पहलवान की मुखिया चुनाव लड़ने की कहानी को बयां करता है । गांव के मुखिया के ठाठ बाट से प्रभावित पहलवान की पत्नी किस तरह से अपने पति को चुनाव लड़वाने की कोशिस में अपना सारा जमीन बेच देती है उसी कहानी को संगीत और खूबसूरत संवाद के माध्यम से पिरोया गया है । पहलवान की भूमिका में जहां भोजपुरी फिल्मो के चर्चित अभिनेता मनोज टाईगर ने अपने अभिनय को सजीव कर दिया है । उनकी पत्नी की भूमिका में रोजा उस्मानी काफी जंची है ।

पति के नेता बनने और खुद मुखियाइन कहलाने के लालच में वो किस तरह अपने पति से हर बात मनवाती है और क्या क्या जुगत करती है उसने बखूबी निभाया है । नेता जी के सेक्रेटी की भूमिका में दिलीप पांडे का अंदाज़ काफी चुटीला है जबकि उत्तर प्रदेश पुलिस के सिपाही की भूमिका में बृजेश कर्णवाल ने बातों बातों में व्यंगात्मक रूप से कई मुद्दा उठा कर दर्शको की सोच को जगाने का प्रयास किया है । नेता जी एक म्यूजिकल राजनीति सटायर है और इसका संगीत पक्ष भी काफी मजबूत है जिसमे रतनलाल और मृत्यंजय पांडे ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाया है । पंचम रंग की दूसरी प्रस्तुति अमर प्रेम एक पात्रीय नाट्य है जिसे मनोज टाईगर ने अपने अंदाज से जान डाल दिया । गांव के एक युवक की अधूरी प्रेम कथा को कहते वक्त कई बार दर्शको की जोरदार तालिया मिली तो कई बार उनकी आंखें नमभी हो गई । दोनों ही नाटकों के निर्देशक मनोज सिंह टॉयगार हैं ।  ——Uday Bhagat(PRO)

Print Friendly, PDF & Email

Comments are closed.